फतेहगढ़ साहिब से टिकट हासिल करने हेतु उम्मीदवार हुए सक्रिय


फतेहगढ़ साहिब, 24 जनवरी (भूषण सूद) : लोक सभा चुनाव को लेकर विभिन्न पार्टियों में टिकट लेने के दावेदारों की सरगर्मियां तेज हो गई है। फतेहगढ़ साहिब (रिजर्व) लोक सभा हलके से पिछले चुनाव में आम आदमी पार्टी के हरिन्द्र सिंह खालसा ने इस हलके से चुनाव जीता था, जबकि कांग्रेस पार्टी के द्वारा पंजाब के मौजूदा कैबिनेट मंत्री साधू सिंह धर्मसोत और शिरोमणि अकाली दल और भाजपा के द्वारा मोहाली के मेयर कुलवंत सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया गया था।  प्राप्त सूचना के अनुसार इस बार भी कांग्रेस पार्टी कैबिनेट मंत्री साधू सिंह धर्मसोत को अपना उम्मीदवार बनाने की इच्छक थी, क्योंकि उन की रिहायश अमलोह में हैं जहां वह 4 बार बतौर विधायक का चुनाव जीत चुके हैं, परन्तु उन्होंने पार्टी हाईकमांड को अपने स्थान पर अपने लड़के गुरप्रीत सिंह धर्मसोत जोकि यूथ कांग्रेस फतेहगढ़ साहिब का इंचार्ज रहा है और मौजूदा समय पंजाब प्रदेश कांग्रेस का सदस्य है को टिकट देने की शिफारश की है। इससे अलावा पटियाला नजदीकी गांव फतेहगढ़ छन्ना के निवासी गुरप्रीत सिंह गोल्डी के द्वारा हलके के विभिन्न शहरों में अपने फलैक्स भी पार्टी नेताओं के साथ लगा दिए गए हैं। पूर्व लोक सभा सदस्य हरचंद सिंह के पोते अमनीत सिंह अमन के द्वारा भी टिकट के लिए दावेदारी पेश की जा रही है जोकि प्रदेश कांग्रेस के पूर्व सचिव है, जबकि उसकी माता रवि किरन प्रदेश कांग्रेस की सदस्य है। राज सभा सदस्य और पंजाब प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष शमशेर सिंह दूलों के पुत्र बनी दूलों भी टिकट हासिल करने के लिए दावेदारी पेश कर रहे हैं, उन्होंने 2017 में पाइल (रिजर्व) हल्के से टिकट के लिए दावा किया था और मौजूदा समय प्रदेश कांग्रेस के सचिव भी है। उस का कहना है कि उस के पिता 1997 में रोपड़ लोक सभा हल्के से सांसद रह चुके हैं और रोपड़ हलका टूटने के बाद ही फतेहगढ़ साहिब हलका बना है, जहां उन की ज्यादा पकड़ है। इस से अलावा हल्का बस्सी पठानां के विधायक गुरप्रीत सिंह जीपी, रायेकोट से कांग्रेस प्रवक्ता अमर सिंह और पूर्व मंत्री मलकीत सिंह आदि के नाम भी चर्चा है। आम आदमी पार्टी के खिलाफ मौजूदा सांसद सदस्य हरिन्द्र सिंह खालसा के द्वारा बगावत किए जाने के कारण आम आदमी पार्टी के द्वारा इस हलके में जस्टिस जोरा सिंह जिस ने पिछले दिनों आम आदमी पार्टी में शमूलियत की है और एससी विंग के प्रदेश महासचिव बलजिन्द्र सिंह में से किसी एक को टिकट देने की संभावना है।  मौजूदा सांसद हरिन्द्र सिंह खालसा के के अकाली दल व भाजपा में जाने के चर्चे है और उन के द्वारा पार्टी का टिकट हासिल करने के भी चर्चे हैं। इस से अलावा सांसद सदस्य सतविन्द्र कौर धालीवाल जोकि पूर्व मंत्री बसंत सिंह खालसा की मौत के कारण रोपड़ लोक सभा हलके से 1997 के जिमनी चुनाव और 1998 का चुनाव जीत चुके हैं, द्वारा भी दावेदारी पेश की जा रही है। इस के अलावा पंजाब विधान सभा के पूर्व स्पीकर चरनजीत सिंह अटवाल जोकि पहले भी इस हलके से चुनाव लड़ चके हैं, बस्सी पठानां हलके के पूर्व विधायक जस्टिस निर्मल सिंह, उन की पत्नी बीबी परमजीत कौर गुलशन और मक्खन सिंह लालका जोकि मौजूदा समय इस हल्के के इंचार्ज हैं के द्वारा भी टिकट हासिल करने के लिए यत्न किए जा रहे हैं, जबकि पंजाबी एकता पार्टी के द्वारा पिछले दिनों पार्टी में शामिल हुए जरनैल सिंह को मैदान में उतारने की चर्चा है। मौजूदा समय राज्सी पार्टियों में इन चुनाव को लेकर पूरी सरगर्मियां शुरू हो गई हैं।