जनगणना का पहला चरण अगले वर्ष 15 मई से


चंडीगढ़, 10 दिसम्बर (अ.स.) : पंजाब में जनगणना दो चरणों में की जायेगी तथा इसका पहला चरण अगले साल 15 मई से 29 जून तक किया जायेगा। यह जानकारी मुख्य सचिव करण अवतार सिंह ने मंगलवार को यहाँ राज्य स्तरीय समन्वय समिति की बैठक में जनगणना-2021 की तैयारियों का जायज़ा लेने के बाद दी । सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि जनगणना दो चरणों में की जायेगी। पहले चरण में 15 मई से 29 जून, 2020 तक घरों की गणना करने के साथ-साथ राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर अपडेट किया जायेगा। दूसरे चरण में 9 से 28 फरवरी, 2021 तक जनगणना की जायेगी और 1 से 5 मार्च 2021 तक सुधार किया जायेगा।
प्रवक्ता ने बताया कि प्रशासनिक इकाईयों की सीमाएं 31 दिसंबर, 2019 के बाद बढ़ाई नहीं जा सकेंगी। इससे राज्य में जनगणना 2021 मुकम्मल होने तक मौजूदा नगर पालिकाओं, गाँवों, तहसीलों, विकास ब्लॉकों, सब डिवीजनों, ज़िलों आदि की सीमाओं में कोई भी बदलाव करने पर पाबंदी होगी।  मुख्य सचिव को अवगत करवाया गया कि मास्टर ट्रेनरों को मैगसीपा, चंडीगढ़ में 16 से 21 दिसंबर, 2019 तक प्रशिक्षण दिया जायेगा। जनगणना 2021 के फील्ड के कार्य के लिए जनगणना करने वालों और सुपरवाईजऱों जिनमें राज्य सरकार के अधिकारी, क्लर्क और अध्यापक, स्थानीय आथॉरिटी आदि शामिल हैं, की ड्यूटी लगाई जायेगी। उनको इस बारे में चार दिन का प्रशिक्षण दिया जायेगा। जनगणना की प्रक्रिया को द्विभाषीय मोबाइल ऐप और पेपर फॉर्मेट की सहायता से पूरा किया जायेगा।