फिरोज़पुर डिवीजन के अधिकारी नहीं लागू कर रहे रेलवे बोर्ड के फैसले


लुधियाना, 7 दिसम्बर (अ.स.) : फिरोज़पुर डिवीजन के अधिकारी रेलवे बोर्ड के फैसलों को लागू करना कुछ भी नहीं समझते हैं, जिस कारण कर्मचारियों को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। आज रेलवे पैंशनज़ वैल्फेयर एसोसिएशन लुधियाना जोन के प्रधान भजनीत सिंह ने बताया कि माननीय सुप्रीम कोर्ट के फैसले अनुसार जिन मुलाज़िमों या पैंशनरों को हुई ज्यादा अदायगी को पिछले पांच साल से ऊपर समय हो गया है या इस से भी ज्यादा समय की पुरानी अदायगी है कोई भी विभाग वापस नहीं ले सकता, जबकि रेलवे डिवीज़न फिरोजप़र के अधिकारी अपने अधीन आते उन कर्मियों व पैंशनरों से धक्के से हुई गलत या ज्यादा अदायगी वापस लेने के लिए दबाव डाल रहे है। कर्मचारी नेता ने बताया कि माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की पालना में भारतीय रेलवे बोर्ड द्वारा भी आदेश जारी किए गए है, जबकि रेलवे डिवीज़न फिरोज़पुर के अधिकारी आदेश मानने के लिए तैयार नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि अधिकारी उनको जानबूझ कर परेशान कर रहे है। एसोसिएशन के नेता ने बताया कि अगर रेलवे डिवीज़न फिरोज़पुर के डीआरएस ने माननीय सुप्रीम कोर्ट व रेलवे बोर्ड के आदेशों के उलट चलकर ज्यादा अदायगी की रिकवरी न रोकी तो जत्थेबंदी डी.आर.एस. के कार्यालय के आगे अनिश्चितकाल के लिए धरने लगाने पर मज़बूर होंगे, जिसकी जिम्मेवारी संबंधित अधिकारियों की होगी।