बिना लाईसेंस से दवा की ऑनलाइन बिक्री रोकने के आदेश


देश के 8.50 लाख कैमिस्टों को राहत
संगरूर, 7 दिसम्बर (सुखी राजा) : देश में पिछले तीन चार वर्ष से दवाओं की ऑनलाईन हो रही बिक्री से बुरी तरह प्रभावित हो रहे देश के 8.50 लाख कैमिस्टों को अब कुछ राहत मिलने की उम्मीद है क्योंकि देश के मुख्य ड्रग कंट्रोलर ने देश के सभी राज्यों के ड्रग कंट्रोलरों को एक पत्र लिखकर कहा है कि अदालत के आदेशों की पालना करते बिना लाईसेंस से दवा की ऑनलाईन हो रही बिक्री को सख्ती से रोका जाए। यह जानकारी देते ऑल इंडिया कैमिस्ट एसोसिएशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष तथा पंजाब कैमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुरिन्द्र दुगल तथा सीनियर नेता राजीव जैन ने बताया कि कई कंपनियों द्वारा दवाओं की ऑनलाईन बिक्री पूरी तरह गैर कानूनी है। इससे ड्रग लाईसेंस लेकर दवाओं का कारोबार कर रहे कैमिस्टों के रोज़गार पर कुप्रभाव पड़ने के साथ-साथ इस कारोबार से संबंधित 20 लाख परिवारों की रोटी रोजी संकट में पड़ती है, दूसरा ऑनलाईन बिक्री से नशे के तौर पर प्रयोग की जा सकती दवाएं भी आसानी से नौजवानों के हाथों में पहुंचती हैं। कैमिस्ट नेताओं ने बताया कि इस संबंध में पंजाब कैमिस्ट एसोसिएशन द्वारा ज्वाइंट कमिशनर (ड्रग) पंजाब श्री प्रदीप मट्टू को भी एक पत्र लिखकर मांग की है कि जारी हुए आदेशों को लागू कर दवाओं की ऑनलाईन बिक्री बंद करवाई जाए।