नासा का दावा - मून मिशन के ऑर्बिटर को मिला चंद्रयान-2 का विक्रम लैंडर


नई दिल्ली, 03 दिसंबर - भारत के महात्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान -2 अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने विक्रम लैंडर को लेकर बड़ा खुलासा किया है। नासा के लूनर रिकनैसैंस ऑर्बिटर (एलआरओ) ने चांद की सतह पर चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर का मलबा तलाश लिया है। चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर का मलबा क्रैश साइट से 750 मीटर दूर मिला है। नासा ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है। नासा ने रात करीब 1:30 बजे चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर के इम्पैक्ट साइट की तस्वीर जारी की है। नासा ने बताया कि उसके ऑर्बिटर को विक्रम लैंडर के तीन टुकड़े मिले हैं। ये टुकड़े 2x2 पिक्सेल के हैं। नासा की ओर से जारी फोटो में नीले और हरे डॉट्स के जरिये विक्रम लैंडर के मलबे के दिखाया गया है। तस्वीर में दिख रहा है कि चांद की सतह पर जहां विक्रम लैंडर गिरा वहां मिट्टी को नुकसान भी हुआ है।