ऑडिट में सहयोग नहीं कर रही कॉक्स एंड किंग्स, बैंकों के इतने हज़ार करोड़ फंसे


मुम्बई, 18 नवम्बर : टूर आप्रेटर कॉक्स एंड किंग्स के फोरेंसिक ऑडिट लिए बैंकों को खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। सूत्रों की मानें तो कम्पनी सर्वर क्रैश होने की बात कहकर फोरेंसिक ऑडिटर से कोई डेटा साझा नहीं कर रही है। सूत्रों के मुताबिक ऑडिट फर्म ईवाई को फोरेंसिक ऑडिट का काम अगस्त में दिया गया था और 15 अक्तूबर तक रिपोर्ट सौंपी जानी थी। लेकिन फोरेंसिक ऑडिटर को पर्याप्त जानकारी नहीं मिलने की वजह से फोरेंसिक ऑडिट का काम आगे नहीं बढ़ पा रहा है। आपको बता दें कि बैंकों और वित्तीय संस्थानों का कॉक्स एंड किंग्स पर करीब 3615 करोड़ रुपए का बकाया है। उधर, बैंक भी फोरेंसिक ऑडिट की रिपोर्ट आए बिना आगे कोई और फैसला नहीं ले पा रहे हैं। ईवाई को फोरेंसिक ऑडिट नियुक्त करने से पहले बैंकों ने कम्पनी के खातों की जांच पड़ताल के लिए तीन ऑडिट फर्म्स की मदद ली थी। लेकिन डेटा नहीं मिल पाने की वजह से काम आगे नहीं बढ़ पाया। हालांकि ईवाई के फोरेंसिक ऑडिट की शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक कम्पनी के बकायों की वसूली न हो पाने की वजह से हालत बिगड़े हैं।