इमरान खान ने अमन की बात करते भारत की ओर बढ़ाया दोस्ती का हाथ


अमृतसर, 15 नवम्बर (सुरिंदर कोछड़) : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने क्षेत्रीय शांति की मांग करते हुए कहा कि दक्षिण एशिया में शांति के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच दोस्ताना संबंध महत्त्वपूर्ण है। खान ने दक्षिणी एशिया, मध्य पूर्व और मध्य एशिया में शांति और विकास के बारे मार्गला डायलाग-2019 के समाप्ति सैशन को संबोधित करते हुए कहा कि एक-दूसरे के साथ लड़ने की बजाय पाक और भारत मिलकर गरीबी, मौसम में बदलाव और भुखमरी जैसी चुनौतियों का मुकाबला कर सकते हैं। संबोधन के दौरान पाक प्रधानमंत्री ने सांझ की बात करने के उपरांत कश्मीर का ज़िक्र करते हुए इस मामले को लेकर सारे संसार को इसके परिणाम भुगतने की धमकी भी दी। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय भाईचारे को चेतावनी दी कि भारत के कारण क्षेत्र में एक बहुत गंभीर स्थिति विकसित हो रही है और कहा कि यह वह समय है जो अंतर्राष्ट्रीय भाईचारे को इसमें भूमिका निभानी चाहिए, नहीं तो इसके परिणाम पूरी दुनियां को प्रभावित करेंगे।