चंद्रयान-2 के लैंडर की चांद पर हुई थी हार्ड लैंडिंग


वाशिंगटन, 27 सितंबर - अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने अपने 'लूनर रिकॉनिसंस ऑर्बिटर कैमरा' से ली गई उस क्षेत्र की 'हाई रेजोल्यूशन' तस्वीरें जारी की जहां भारत ने अपने महत्वाकांक्षी 'चंद्रयान-2' मिशन के तहत लैंडर विक्रम की 'सॉफ्ट लैंडिग' कराने की कोशिश की थी। नासा ने इन तस्वीरों के आधार पर बताया कि विक्रम की 'हार्ड लैंडिंग' हुई। नासा के लूनर रिकॉनिसंस ऑर्बिटर (एलआरओ) अंतरिक्षयान ने 17 सितंबर को चंद्रमा के अनछुए दक्षिणी ध्रुव के पास से गुजरने के दौरान उस जगह की कई तस्वीरें ली, जहां विक्रम ने सॉफ्ट लैंडिग के जरिए उतरने का प्रयास किया था लेकिन एलआरओ लैंडर के उतरने का स्थान या उसकी तस्वीर लेने में सफल नहीं हुआ।